Pal Pal India

गाजा पट्टी के शरणार्थी शिविर में आग से 21 लोगों की मौत

 
गाजा पट्टी के शरणार्थी शिविर में आग से 21 लोगों की मौत

गाजा सिटी, 18 नवंबर। गाजा पट्टी पर गुरुवार देर रात शरणार्थी शिविर में आग लग गई। हादसे में 21 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 10 बच्चे भी हैं। जिस इमारत में यह आग लगी, वहां बड़ी संख्या में फिलिस्तीनी शरणार्थी रहते हैं। आशंका जाहिर की जा रही है कि गैस लीक होने के कारण आग लगी। पुलिस अफसर ने बताया कि आग लगने के कारण का पता नहीं चल सका है। शुरूआती जांच के मुताबिक, बिल्डिंग में गैसोलीन रखी थी। हो सकता है कि आग लगने की वजह यही हो। जिस अस्पताल में शवों और घायलों को लाया गया है, वहां के डायरेक्टर ने मृत बच्चों की संख्या 10 बताई है। एक अफसर ने कहा- आग काफी भयानक थी। मरने वालों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए जिसके चलते मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। एक चश्मदीद ने बताया- लोग इमारत के सामने चिल्ला रहे थे। प्रार्थना कर रहे थे कि कोई आकर उनके रिश्तेदारों को बचा ले। बच्चे और महिलाएं जिंदा जल रहे थे और उन्हें बचाने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही थी।

GAZA FIRE

एक स्थानीय ने बताया- इमारत में गैसोलीन रखी थी। इससे वहां जेनरेटर ऑपरेट किया जाता था। एक अधिकारी ने बताया कि इमारत में जश्न चल रहा था। एक परिवार का रिश्तेदार विदेश से वापस आया था और उसके लिए ही कार्यक्रम किया जा रहा था। मृतकों में ज्यादातर एक ही परिवार के सदस्य हैं। संख्या अभी साफ नहीं हो पाई है। एक दमकलकर्मी ने बताया कि आग काफी भयानक थी। आग पर काबू पाने में करीब एक घंटे का समय लगा। इसी बीच लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन भी जारी रहा। बिल्डिंग में रह रहे ज्यादातर लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने इस हादसे को नेशनल ट्रैजडी बताया है। एक दिन के शोक की भी घोषणा की है।

Breaking news
राष्ट्रीय समाचार