Pal Pal India

गोकुल सेतिया को बंबीहा गिरोह से खतरा, हाईकोर्ट में लगाई सुरक्षा की गुहार

 
 गोकुल सेतिया को बंबीहा गिरोह से खतरा, हाईकोर्ट में लगाई सुरक्षा की गुहार
  चंडीगढ़ 14 नवंबर। हरियाणा के पूर्व मंत्री लक्ष्मण दास अरोड़ा के नाती गोकुल सेतिया को बंबीहा गिरोह से जान का खतरा है। उन्होंने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में अपनी और परिवार की सुरक्षा के लिए याचिका दायर की है। इसी साल जून में उन्हें इंटरनेशनल नंबर से कॉल आई थी। कॉल करने वाले ने 1 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। पैसे न देने पर जान से मारने की धमकी दी गई थी। इसकी शिकायत उन्होंने सिरसा एसपी को दी थी। याचिका में उन्होंने जानकारी दी है कि उनके पूरे परिवार के पास तीन सुरक्षा कर्मचारी हैं। इसमें से एक रोटेशन बेस पर छुट्टी पर रहता है। लोकसभा और विधानसभा चुनावों में कुछ समय ही शेष हैं। इसको लेकर गोकुल सेतिया जनसंपर्क अभियान कर रहे हैं। गोकुल सेतिया के परिवार और उसके समर्थक उनकी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। ऐसे में उनकी सुरक्षा होना बेहद जरूरी है।
इनेलो के समर्थन से लड़ा था चुनाव
गोकुल सेतिया के नाना पूर्व मंत्री लक्ष्मण दास अरोड़ा प्रदेश कांग्रेस के पंजाबी समाज के दिग्गज नेताओं में एक थे। वे हरियाणा के तीन बार मंत्री रहे हैं। 2014 में सेतिया परिवार कांग्रेस छोडक़र भाजपा में शामिल हुआ था। तब पूर्व मंत्री की राजनीतिक उत्तराधिकारी सुनीता सेतिया को भाजपा ने चुनाव में उतारा। सुनीता सेतिया यह चुनाव हार गईं। इसके बाद भाजपा ने 2019 में उन्हें टिकट नहीं दी, तब गोकुल सेतिया आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव में उतरे। इनेलो ने उन्हें अपना समर्थन दिया। गोकुल सेतिया कड़े मुकाबले में मौजूदा विधायक गोपाल कांडा से केवल 600 वोट से चुनाव हार गए थे।
सिरसा में पकड़े गए थे गुर्गे
कुछ दिन पहले गोकुल सेतिया पर हमला करने की प्लानिंग कर रहे तीन गुर्गों को सिरसा में पकड़ा था। इन गुर्गों को पंजाब की एंटी टास्क फोर्स ने सिरसा में दबिश देकर पकड़ा था। पूछताछ में इन्होंने गोकुल सेतिया को मारने के लिए सिरसा आने का खुलासा किया था। पंजाब पुलिस ने यह इनपुट हरियाणा पुलिस से साझा किया। इसके बाद सिरसा पुलिस ने इनपुट के आधार पर उसे तीन सुरक्षा कर्मचारी दे दिए, लेकिन अब फिर से गोकुल सेतिया को कॉल करके रंगदारी मांगी है। आरोपियों ने जून में विदेशी नंबर से गोकुल को कॉल की और हालचाल पूछा। फिर कामकाज पूछा और कहा कि हमारे आदमी पहले भी पकड़े गए थे, आपको पता चल गया होगा। इसलिए अब आपको सेवा लगानी है। यदि सेवा नहीं देनी तो अपनी प्रॉपर्टी अपने घर वालों के नाम कर दो, क्योंकि आगे तुम्हें इसकी जरूरत पडऩी नहीं। हमने अपने आदमी तुम्हारे ओर फिर भेजने हैं। जब सेवा को विचार बन जाए तो इसी नंबर पर कॉल कर लेना। गोकुल ने सिरसा एसपी को पत्र लिखकर पूरे मामले से अवगत करवाकर अपनी सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है।
फोटो: गोकुल